Tag Archives: Afganistan

तालिबान का नया फ़रमान, महिलाओं के लिए चेहरा ढकना अनिवार्य

अफगानिस्तान के सर्वोच्च नेता ने देश की महिलाओं को सार्वजनिक रूप से अपना चेहरा ढंकने का आदेश दिया है . यह तालिबान द्वारा पिछले साल सत्ता पर कब्जा करने के बाद से महिलाओं पर लगाए गए सबसे कठोर प्रतिबंधों में से एक है. तालिबानी प्रवक्ता ने कहा कि चेहरा ढंकना एक इस्लामिक नियम है. तालिबान का यह फ़रमान 1996 से

और पढ़े

अफगानिस्तान की सरकार में पाकिस्तान का कितना अहम रोल ?

अफगानिस्तान तालिबान ने नयी सरकार की घोषणा के दी है. मुल्ला मोहम्मद हसन अखुंद (Mullah Hassan Akhund) अफगानिस्तान में तालिबानी सरकार के प्रधानमंत्री (Prime Minister) होंगे. इससे पहले प्रधानमंत्री की दौड़ में सबसे आगे चल रहे मुल्ला बरादर को उप-प्रधानमंत्री बनाया गया है. अमेरिका की आतंकी लिस्ट में शामिल हक्कानी नेटवर्क के प्रमुख सिराजुद्दीन हक्कानी को कार्यवाहक गृहमंत्री बनाया गया है. वे

और पढ़े

तालिबान घर घर जा कर कर रहा अपने खिलाफ काम करने वालों की खोज

अफ़ग़ानिस्तान में लोग तालिबान के खिलाफ सड़कों पर उतर रहे हैं. गुरुवार को अफ़ग़ानिस्तान की आज़ादी की 102वीं वर्षगांठ और तालिबान के विरोध में कम संख्या में अफ़गानों ने अपना राष्ट्रीय ध्वज लहराते हुए सड़कों पर उतर आए. वहीँ तालिबान के लड़ाके काले, लाल और हरे रंग के राष्ट्रीय ध्वज की जगह अपने स्वयं के सफेद झंडे लगा रहे हैं.

और पढ़े

क्‍या है तालिबान और कैसे अफगानिस्‍तान की सत्‍ता में यह काबिज हो पाया

तालिबान ने अब सारे अफ़ग़ानिस्तान पर अपना कब्ज़ा कर लिया है. अभी भी पश्चिमी देशों में तालिबान को अफगानिस्‍तान और इस क्षेत्र के लिए बड़ा खतरा माना जाता है. जानिए क्‍या है तालिबान और कैसे अफगानिस्‍तान की सत्‍ता में यह काबिज हो पाया. कौन हैं तालिबान 1979 में सोवियत आर्मी ने अफ़ग़ानिस्तान पर हमला बोल दिया. यहाँ तत्कालीन शासक दाऊद

और पढ़े

अफ़ग़ानिस्तान से भागे पूर्व राष्ट्रपति अशरफ़ ग़नी पहली बार सामने आए

अफ़ग़ानिस्तान से भाग गए पूर्व राष्ट्रपति अशरफ़ ग़नी पहली बार सामने आए हैं. अपने आधिकारिक फेसबुक पेज पर दुनिया को संबोधित संबोधित करते हुए अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति ने कहा कि अगर वो काबुल में रहते तो खून खराबा हो जाता. ग़नी इस समय संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में हैं. यूएई ने उन्हें मानवीय आधार पर शरण दी है. हालाँकि

और पढ़े

तालिबान की प्रेस कॉन्फ्रेंस – कहा सबको माफ़ किया, महिलाओं को अधिकार देंगे

तालिबान ने कहा है कि उन्होंने सभी सरकारी कर्मचारियों, दुभाषियों और पूर्ववर्ती सरकार के लिए काम करने वाले लोगों को माफ़ कर दिया है. तालिबान ने कहा है कि वे किसी से भी ‘बदला’ नहीं लेंगे. तालिबान ने ये भी दावा किया कि उनके शासन में महिलाओं को काम करने और यहाँ तक कि सरकार में शामिल होने का अवसर

और पढ़े